यूपी में अल्पसंख्यक छात्रों को मिलेगा 30 लाख तक का एजुकेशन लोन, ऑनलाइन आवेदन करें, अंतिम तिथि 15 जुलाई | Alpsankhyak Education | UP Education loan 2021

Alpsankhyak Education| UP Education loan 2021उत्तर प्रदेश में अल्पसंख्यक समुदाय के विद्यार्थियों को 30 लाख तक एजुकेशन लोन मिलेगा। आवेदन करने की अंतिम तारीख 15 जुलाई है।

यूपी में अल्पसंख्यक छात्रों को मिलेगा 30 लाख तक का एजुकेशन लोन, 15 जुलाई तक करें आवेदन

Alpsankhyak Education | UP Education loan 2021
Alpsankhyak Education | UP Education loan 2021

UP Education Loan 2021:  उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक समुदाय के विद्यार्थियों को स्कूल से पढ़ने लिखने के लिए अब लोन उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दिया जाएगा। अल्पसंख्यक समुदाय  उत्तर प्रदेश लोन के बारे में पात्रता और प्रक्रिया इत्यादि की जानकारी पढ़ने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।  इसके साथ ही अल्पसंख्यक समुदाय के बेरोजगारों के लिए टर्म लोन  ब्याज की सब्सिडी के साथ उपलब्ध है। ताकि वे अपना स्वरोजगार कर सके। इन सब बातों की जानकारी इस आर्टिकल में हम दे रहे हैं।

पात्रता

  • एजुकेशन लोन के लिए  उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक समुदाय के मूल निवासी को ही यह लोन मिलेगा। अल्पसंख्यक समुदाय को एजुकेशन लोन तकनीकी शिक्षा और हायर एजुकेशन में पढ़ाई लिखाई में होने वाले खर्च के मद्देनजर मिलेगा।
  • अल्पसंख्यक समुदाय के विद्यार्थियों को यह लोन मिलेगा, जिनकी आयु 18 वर्ष से अधिक है।
  • लाभ पाने वाले लाभार्थी छात्र के परिवार की कुल सालाना कमाई शहरी क्षेत्र के परिवार के लिए कुल 1 लाख 20 हजार से अधिक नहीं होना चाहिए। जबकि ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लाभार्थी परिवार की वार्षिक आय ₹98000 से अधिक नहीं होना चाहिए।

अंतिम तिथि

 एजुकेशन लोन अल्पसंख्यक समुदाय  के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 जुलाई है।

यूपी एजुकेशन लोन

अल्पसंख्यक  समुदाय के लिए UP, Education Loan इसलिए दिया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में रहने वाले अल्पसंख्यक के बेटे बेटियों के की स्‍कूली पढ़ाई, प्रोफेशनल एवं जॉब ओरिएंटेड कोर्सेज़ में एडमिशन लेने के लिए और विदेशों में पढ़ाई करने के लिए काफी पैसों की जरूरत होती है इसलिए  ₹30 लाख का ऋण देने की घोषणा उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किया गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी जी प्रदेश के गरीब और आर्थिक रुप से कमजोर अल्पसंख्यक बच्चों की पढ़ाई में मदद के लिए सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।  अल्पसंख्यक समुदाय यूपी एजुकेशन लोन लिए पात्र अभ्यर्थी 15 जुलाई तक आवेदन कर सकता है।

अल्पसंख्यक वर्ग के बेरोजगार युवक और युवती को टर्म लोन

दोस्तों उत्तर प्रदेश सरकार अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों कि शिक्षा के स्तर को ऊपर उठाने के लिए कई योजनाएं ला रही है। इसी के साथ अगर अल्पसंख्यक वर्ग का कोई बेरोजगार युवा है तो उन्हें रोजगार करने के लिए टर्म लोन भी मुहैया कराया जा रहा है।

जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग में या टर्म लोन ऐसे बेरोजगार अल्पसंख्यक समुदाय के युवक युवतियों को दिया जा रहा है जो अपना रोजगार शुरू करना चाहते हैं।  इस बारे में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी गौतम बुद्ध नगर डॉक्टर अमृता सिंह ने मीडिया को सूचना देते हुए बताया कि उत्तर प्रदेश अल्पसंख्यक वित्तीय एवं विकास लखनऊ द्वारा टर्मलोन योजना के तहत जिले  में अल्पसंख्यक वर्ग के अंतर्गत आने वाले मुस्लिम, सिख, बौद्ध, जैन एवं पारसी बेरोजगार युवक एवं युवतियों को  कम से कम ₹1 लाख व अधिक से अधिक ₹2 लाख तक की परियोजनाओं के लिए कर्ज दिया जा रहा है।

यह Loan 6% वार्षिक ब्याज की दर से उपलब्ध कराया जा रहा है। जबकि बाजार रेट में कोई भी लोन 9 से 12 प्रतिशत से अधिक इंटरेस्ट ऑफ रेट से  सालाना बैंकों से मिलता है। कम ब्याज दर में दिया जाने वाला यह लोग अल्पसंख्यक समुदाय के बेरोजगार युवक-युवतियों के लिए उनका खुद का रोजगार शुरू करने के लिए एक अच्छा अवसर है।

इसके साथ जुड़ा एक शर्त यह है कि स्वरोजगार के लिए जिस भी  पर योजना में लाभार्थी 90% लोन का पैसा प NSDFC द्वारा तथा 05-05 प्रतिशत UPMFDC/लाभार्थी द्वारा अपने स्रोतों से  लगाएगा। क्या नियम है

अल्पसंख्यक बेरोजगार के लिए लोन की पात्रता

आपको बता दें कि अल्पसंख्यक समुदाय के रोजगार के लिए खुद का स्वरोजगार करने के लिए  सब्सिडी वाला लोन मिलने की पात्रता निम्नलिखित है। 

  •  लाभार्थी उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक समुदाय का मूल निवासी होना चाहिए।
  • उसकी आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। लाभार्थी की पारिवारिक आय वार्षिक ग्रामीण क्षेत्र में 98 हजार रुपए व शहरी क्षेत्र के लिये 1 लाख 20 हजार रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।

अल्पसंख्यक समुदाय को के बेरोजगारों को लोन देने की दूसरी पात्रता यह है कि – इस योजना के अंतर्गत ऐसे लाभार्थी जिनके परिवार की आय गरीबी रेखा से वार्षिक आय से  डूबने से अधिक है लेकिन ₹800000 वार्षिक आय से कम है तो ऐसे आवेदकों को केवल 8% वार्षिक ब्याज दर से लोन सरकार द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा।

अल्पसंख्यक वर्ग के लाभार्थी सरकारी लोन कैसे हासिल करें

अल्पसंख्यक वर्ग के लिए लाभार्थी द्वारा निगम की मार्जिन मनी/टर्मलोन योजना में इससे पूर्व फायदा हासिल ना किया हो तभी वह इस लोन के लिए हकदार है।

इस योजना का फायदा लेने के लिए इच्छुक लाभार्थी अपने जिले के  कार्यालय जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग पर ऑफलाइन जाकर फार्म भर सकते हैं एवं सभी तरह की जानकारी हासिल कर सकते हैं। आपको बता दें कि अल्पसंख्यक वर्ग के  लोन परियोजना के अंतर्गत से 15 जुलाई 2021 से पहले आपको आवेदन भरकर जमा करना है। इस योजना से संबंधित और अधिक जानकारी के लिए आपको अपने जिले के अल्पसंख्यक कल्याण विभाग  में जाकर अधिकतम जानकारी हासिल करनी चाहिए। 

General FAQs

अल्पसंख्यक वर्ग को पढ़ाई के लिए कितना लोन मिलेगा?  

शिक्षा की राह में रोड़ा न बनेगी मजबूरी, सरकार देंगी अल्पसंख्यकों को लोन अल्पसंख्यक समाज को अच्छी तालीम देने के लिए उत्तर प्रदेश योगी सरकार ने ₹30 लाख तक का लोन देने की योजना शुरू की है।

अल्पसंख्यकों के पढ़ाई लिखाई के लिए मिलने वाले लोन की अंतिम तिथि कितनी तारीख है?

लोन लेने के इच्छुक अभ्यर्थियों से 15 जुलाई तक आवेदन मांगे गए हैं। डीएमओ ने बताया कि आवेदन के लिए निर्धारित प्रारुप कार्यालय से प्राप्त किया जा सकता है। एजुकेशनल लोन अल्पसंख्यक कल्याण विभाग पर ऑफलाइन जाकर फार्म भर सकते हैं एवं सभी तरह की जानकारी हासिल कर सकते हैं। अंतिम तिथि के बाद प्राप्त हुए आवेदन पत्र पर विचार नहीं किया जाएगा।

अल्पसंख्यक समुदाय का मतलब क्या है?

अल्पसंख्यक समुदाय के अंतर्गत निम्नलिखित वर्ग की लोग सम्मिलित हैं-  बौद्ध, जैन, सिख, यहूदी, पारसी, ईसाई और मुस्लिम समुदाय के लोग।


इसे भी पढ़ें:

Leave a comment