22 मार्च जनता कर्फ्यू के बारे में जानकारी पाइए, क्यों आवश्यक है और इसका क्या महत्व है?

22 March Get Information About 'Janata Curfew'. Why It Is Necessary And What Is Its Significance?

0

22 मार्च 2020 जनता कर्फ्यू के बारे में जानकारी पाइए, क्यों आवश्यक है और इसका क्या महत्व है?– दोस्तों आज SarkariExamHelp आप सभी लोगो के बीच 22 मार्च 2020 जनता कर्फ्यू (Janata Curfew)  की जानकारी शेयर कर रहा है. आप इस लेख के माध्यम से यह जान पाएंगे की जनता कर्फ्यू क्या है? और जनता कर्फ्यू की आवश्यकता क्या है? कोरोना वायरस की वजह से सभी लोगों को खुद को दूसरों से अलग रहना पड़ता है. यह है दूसरों को वायरस के प्रसार को रोकने का एकमात्र तरीका है.

Prime Minister’s Address (प्रधानमंत्री का संबोधन)

22 मार्च जनता कर्फ्यू (Janata Curfew) के बारे में जानकारी पाइए, क्यों आवश्यक है और इसका क्या महत्व है?
22 मार्च जनता कर्फ्यू (Janata Curfew) के बारे में जानकारी पाइए, क्यों आवश्यक है और इसका क्या महत्व है?

भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस महामारी को मद्देनजर को देखते हुए राष्ट्र के लिए अपने मुख्य संबोधन में आग्रह किया है कि देशवासियों को इसका पालन करना चाहिए जनता के लिए जनता द्वारा खुद पर लगाया गया कर्फ्यू है, ताकि यह महामारी के प्रसार में संयम रख सकें.

Why is it needed? (इसकी आवश्यकता क्यों है?)

देश को महामारी से बचाने में सक्षम बनाने में मदद करेगी. घरों से बाहर न निकल कर महामारी को बढ़ने से भी रोकेगी. खतरा जो इटली, इरान और अन्य जैसे देशों में फैला हुआ है. जनता कर्फ्यू 14 घंटे का होगा. जिसमें प्रधानमंत्री ने नागरिकों (देशवासियों) से घर के अंदर रहने और सार्वजनिक क्षेत्रों से बचने का आग्रह किया है. आवश्यक सेवाएं हर समय स्टैंडबाय (Stanby) पर होगी जैसे पुलिस (Police), चिकित्सा सेवाएं (Medical Services), मीडिया (Media) अन्य ” 22 मार्च को सुबह 7 से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू रहेगा. ”

Importance of Janata curfew for India (भारत के लिए जनता कर्फ्यू का महत्व)

जनता कर्फ्यू के पीछे का तर्क अभी भी कई लोगों के लिए स्पष्ट नहीं है जिन्होंने सवाल किया है कि क्या 14 घंटे का जनता कर्फ्यू देश से कोरोना वायरस भगायेगा? जनता कर्फ्यू पर सवाल उठाने वालों के लिए जानना जरूरी है, कि कोरोना वायरस का जीवनकाल एक ही स्थान पर 12 घंटे तक रहता है और यदि लोग ऐसी जगहों पर नहीं जाते हैं, कोई संपर्क नहीं करते हैं तो वह फैलने से बच जाएगा और संक्रमित लोगों के बहुत कम मामले होंगे. जैसे कि आप देखते हैं, यह लोगों के कल्याण के लिए किया जाता है और उन्हें सुरक्षित और स्वस्थ रखने की कोशिश की जाती है. कर्फ्यू का पालन करना अनिवार्य है।, क्योंकि हमें अपने राष्ट्र के साथ एकजुट होने का समय है, और कोरोना वायरस महामारी के दौरान हमारी जनता को सुरक्षित रखना है.

इसे भी पढ़ें: