कहां पर नकलची को पकड़ने के लिए AI से रखी गई नजर

जमाना इंटरनेट और टेक्नोलॉजी का है ऐसे में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस AI का इस्तेमाल मेडिकल, एजुकेशन, परीक्षा, पुलिस विभाग खुफिया विभाग में किया जा रहा है। ऐसा एक उदाहरण सामने आया है कि Bihar Police SI Exam में नकल करने वालों को पकड़ने के लिए विशेष आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) की नजर रखी गई थी। आपको बता दे की बिहार पुलिस सी एग्जामिनेशन की परीक्षा 16 दिसंबर 2023 को आयोजित की गई थी। ‌हालांकि परीक्षा सकुशल संपन्न होने की खबर आ रही है। लेकिन जिस तरह से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग परीक्षा की सुचिता बनाए रखने और नकलचियों को पकड़ने के लिए किया गया इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि आने वाले समय में टेक्नोलॉजी कई काम को बहुत आसान बना देगा।

Where is AI kept an eye on to catch imitators

जानकारी के लिए बता दे की बिहार Bihar Police BPSSC SI Exam 2023 की परीक्षा में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से नकल रोकने का सहारा लिया जा रहा ताकि नकलची को पकड़ा जा सके। अक्सर नौकरी की परीक्षाओं में नकल एक बड़ी समस्या बनती जा रही है ऐसे में टेक्नोलॉजी का सहारा लेना पड़ रहा है ताकि नकलचियों को पकड़ा जा सके।

जानकारी के मुताबिक बिहार पुलिस सी परीक्षा 2023 के अध्यक्ष द्विवेदी ने बिहार पुलिस इंस्पेक्टर फ्री एग्जामिनेशन में नकल रोकने के लिए एआई (Artificial Intelligence) पॉवर्ड सिस्टम के इस्तेमाल करने की बात कही गई है। आपको बता दे कि सीसीटीवी कैमरे का इस्तेमाल रकम नकल रोकने के लिए किया जाता रहा है। ‌ इस परीक्षा के एंट्री और एग्जिट प्वाइंट पर 16500 सीसीटीवी कैमरा की मदद से निगरानी की की गई।

नकलचियों पर किस तरह से AI रखता है नजर

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि AI संचालित सिस्टम एग्जामिनेशन के समय स्टूडेंट पर नजर रखता है। यह चेहरे की पहचान और आंखों की ट्रैकिंग और दूसरे टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करता है। ‌ इसके साथ ही कमान रूम से निगरानी की जाती है और कंप्यूटर जनित इस निगरानी से किसी भी तरह की नकल करने की संभावना जीरो हो जाती है।


आप हमसे Facebook Page , Twitter or Instagram से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.


इसे भी पढ़े :

Leave a Comment