Essayगणतंत्र दिवस पर निबंध 500 शब्दों में | Republic Day Essay in Hindi

गणतंत्र दिवस पर निबंध 500 शब्दों में | Republic Day Essay in Hindi

- Advertisement -

गणतंत्र दिवस पर निबंध | Republic Day Essay in Hindi

गणतंत्र दिवस पर निबंध 500 शब्दों में | Republic Day Essay in Hindi26 जनवरी, 1950 ई० को भारतवर्ष एक सार्वभौम सत्ता-संपन्न गणतंत्र राष्ट्र बना था। इसी दिन भारतीय संविधान को यहाँ की जनता ने आत्मार्पित किया था। इसी कारण 26 जनवरी का भारतीय इतिहास में विशेष महत्त्व है। पूर्ण स्वराज्य प्राप्त करने की घोषणा इसी दिन लाहौर में रावी नदी के तट पर 1929 ई० में हमारे तत्कालीन राष्ट्रीय नेताओं ने की थी ।

हमारा देश 15 अगस्त, 1947 ई० को स्वतंत्र हुआ। 26 जनवरी, 1950 ई० से पूरे देश में हमारा अपना संविधान लागू हो गया । इसीलिए प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पूरे देश में एक राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाया जाता है । इस पर्व को हमलोग बड़े धूमधाम, उल्लास तथा आनंद से मनाते हैं । इस दिन प्रत्येक सरकारी-गैरसरकारी भवनों पर हमारे देश का राष्ट्रीय झंडा तिरंगा बड़े सम्मान के साथ फहराया जाता है। तिरंगा को उन्मुक्त आकाश में फहराकर हम अपना राष्ट्रीय गान ‘जन-गण-मन अधिनायक जय हे, भारत-भाग्य-विधाता“” गाते हैं तथा अपने देश की एकता, अखंडता एवं स्वतंत्रता की रक्षा करने का संकल्प करते। हैं।

Republic Day Essay in Hindi

गणतंत्र दिवस पर निबंध | Republic Day Essay in Hindi
गणतंत्र दिवस पर निबंध | Republic Day Essay in Hindi

26 जनवरी को हमारे देश भारत की राजधानी में गणतंत्र दिवस का आयोजन बड़े समारोह के साथ किया जाता है। उस दिन भारत की राजधानी दिल्ली आनंद की नगरी बन जाती है । पूरे शहर को अच्छी तरह से सजाया जाता है ।

संसद् भवन, राष्ट्रपति भवन सचिवालय, सर्वोच्च-न्यायालय-जैसे सभी सरकारी भवनों को रंग-बिरंगे बिजुली के लटटुओं से सजाया जाता है। दीवाली मनायी जाती है। बिजली के लट्ट्टुओं से रात में जगमग करने हुए ये भवन अपने मोहक सौंदर्य से हमारा मन अनायास ही मोह लेते हैं। गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह दिल्ली के विजय चौक पर आयोजित किया जाता है।

थल सेना, जल सेना, नौ-सेना के साथ-साथ अर्द्धसैनिक बलों एवं पुलिस की टुकड़ियाँ राष्ट्रीय झंडे को सलामी देती हैं। देश की जनता के प्रतिनिधि के रूप में हमारे राष्ट्रपति उनकी सलामी लेते हैं। इस अवसर पर वहाँ हर राज्य की तथा अनेक सरकारी विभागों की झाँकियाँ निकलती हैं, अपने देश की सैन्य-शक्ति का प्रदर्शन होता है।

इनसे हमारे देश की सांस्कृतिक तथा सामाजिक एकता की झलक देखने को मिलती है। पूरा देश टेलीविजन पर इस समारोह को देखता है तथा इसका आनंद लेता है। इस अवसर पर वहाँ हमारे देश के प्रधानमंत्री, केंद्रीय सरकार के मंत्री, नेता, गणमान्य व्यक्ति के अलावे भारी संख्या में सामान्य नागरिक भी उपस्थित रहते हैं। इसे देखने के लिए विदेश से भी लोग आते हैं। दूसरे देशों के राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री इस अवसर पर प्रधान अतिथि के रूप में उपस्थित रहते हैं ।

राज्य की राजधानियों में भी गणतंत्र दिवस बड़े समारोह के साथ मनाया जाता है। हर छोटे-बड़े शहरों और गाँवों में भी इस दिवस को सभी सरकारी-गैरसरकारी संस्थाएँ मनाती हैं । इस दिन पूरे देश में अवकाश रहता है ताकि सामान्य लोग इस समारोह में सम्मिलित हो सकें। स्कूलों तथा कॉलेजों में भी गणतंत्र दिवस का समारोह होता है। छात्रों के बीच मिठाइयाँ बाँटी जाती हैं । इस दिन पूरा देश उमंग तथा उल्लास में डूब जाता है। राष्ट्र विकास के लिए इस दिन हम सभी संकल्प लेते हैं।


आप हमसे Facebook Page , Twitter or Instagram से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.


आपको यह हमारी नई लेख गणतंत्र दिवस पर निबंध 500 शब्दों में | Republic Day Essay in Hindi कैसी लगी? और आपको कोई भी Study Materials या PDF Notes चाहिए तो आप हमे कमेंट अवश्य करके जरुर बताये।


इसे भी पढ़ें:-

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

More Articles