National Recruitment Agency – राष्ट्रीय भर्ती संस्था क्या है? | NRA के बारे में जाने सब कुछ

0

National Recruitment Agency in Hindi | राष्ट्रीय भर्ती संस्था की पूरी जानकारी हिंदी में – भारत में अधिकतर छात्रों का उद्देश्य पढ़ाई के बाद सरकारी नौकरी ही हासिल करना होता है। इस कारण वे पढ़ाई के दौरान ही अपने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए तैयारियों में लग जाते हैं। साथ ही साल दर साल निकलने वाली भर्तियों के लिए प्रतियोगिता परीक्षाओं का दौर शुरू हो जाता है। साल भर बैंकिंग, रेलवे, एसएससी इत्यादि की नौकरियों के लिए इतनी परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं की कई छात्र परीक्षाओं से ऊब जाते हैं तथा कुछ परीक्षाओं को छोड़ देते हैं। अनगिनत परीक्षाओं से ही छात्रों को छुटकारा दिलवाने के लिए भारत सरकार ने राष्ट्रीय भर्ती संस्था यानी National Recruitment Agency (NRA) की गठन को मंजूरी दे दी है।

तो चलिए आपको इस पोस्ट में राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी या नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी के बारे में ही पूरी जानकारी देते हैं। इस पोस्ट में हम आपको एनआरए (NRA) की पूरी जानकारी देने के अलावा NRA के काम करने के तरीकों तथा NRA के फायदे के बारे में भी बताएंगे। इसके अलावा आपको National Recruitment Agency से जुड़ी और भी कई महत्वपूर्ण जानकारी देंगे। तो राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के बारे में पूरी जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक पढ़ें।

अवश्य पढ़ें:

What is National recruitment agency – राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी क्या है?

National Recruitment Agency
National Recruitment Agency in Hindi

National Recruitment Agency एक ऐसी संस्था है जो भारत में केंद्र सरकार के विभागों के तहत आने वाली सरकारी नौकरियों के लिए पूरे देश में कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (CET) का आयोजन करेगी। 19 अगस्त 2020 को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने National Recruitment Agency यानी राष्ट्रीय भर्ती संस्था के गठन को मंजूरी दी है।

वर्तमान समय में नॉन गैजेटेड (Non-gazetted)  नौकरियां जैसे कि बैंकिंग, रेलवे, एसएससी इत्यादि में भर्ती के लिए अलग – अलग संस्थाएं अलग – अलग समय पर निकलने वाली भर्तियों के आधार पर प्रतियोगिता परीक्षाएं आयोजित करती हैं। इसके माध्यम से ही रिक्तियों को भरा जाता है। लेकिन अब  इस व्यवस्था को खत्म करते हुए इन भर्तियों के लिए पहले नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी द्वारा एक कॉमन एग्ज़ाम लिया जाएगा। इस परीक्षा में हासिल किए गए नंबर के आधार पर ही भविष्य में NRA के तहत आने वाले विभागों में निकलने वाली नौकरियों के लिए आयोजित किए जाने वाले मुख्य परीक्षा में प्रतियोगियों को बैठने का मौका मिलेगा।

National Recruitment Agency कैसे काम करेगी?

वर्तमान समय में केंद्र के तहत आने वाली नौकरियों के लिए अलग – अलग संस्थाएं भर्ती के लिए अपने अनुसार प्रतियोगिता परीक्षाएं आयोजित करती हैं। लेकिन नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी की स्थापना के बाद ये तरीका बदल जाएगा।  National Recruitment Agency केंद्र सरकार के अधीन आने वाली कुछ नौकरियों जैसे कि एसएससी (SSC), आईबीपीएस (IBPS) रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) इत्यादि के लिए पहले एक कॉमन एंट्रेंस एग्ज़ाम लेगी।

NRA साल में सिर्फ 2 बार कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट यानी Common Eligibility Test (CET) का आयोजन करेगी। CET में आए परिणाम के आधार पर ही सफल अभ्यर्थियों को संबंधित विभाग के लिए आयोजित होने वाले मुख्य परीक्षा में बैठने का मौका मिलेगा।

वर्तमान समय में लगभग 20 एजेंसियां काम कर रही है जो कि केंद्र के अधीन आने वाले सभी भागों से निकलने वाले भर्तियों की पूर्ति के लिए प्रतियोगिता परीक्षाओं का आयोजन करवाती हैं। इनमें से वर्तमान समय में रेलवे बैंकिंग तथा एसएससी को NRA के तहत लाया गया है। समय के साथ बाकी सभी अन्य विभागों को भी NRA के तहत ही लाया जाएगा यानी कि बाकी विभागों के लिए भी NRA पहले नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट का आयोजन करेगी।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के काम करने के तरीके को और सरल तरीके को इस तरह समझे कि वर्तमान समय में रेलवे में निकलने वाली भर्तियों के लिए परीक्षाओं का आयोजन RRB यानी रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड द्वारा किया जाता है। इसी तरह बैंकिंग से संबंधित नौकरियों के लिए परीक्षा का आयोजन आईबीपीएस यानी Institute of banking personnel selection द्वारा किया जाता है। लेकिन अब इन सभी विभागों के निकलने वाली नौकरियों के लिए पहले एक एंट्रेंस परीक्षा का आयोजन NRA करेगी। NRA के एंट्रेंस में सफल होने के बाद ही छात्र किसी भी विभाग जैसे कि रेलवे, बैंकिंग, एसएससी द्वारा आयोजित किए जाने वाले एग्ज़ाम में शामिल हो पाएंगे।

इसे इस तरह समझे की जैसे वर्तमान समय में अगर रेलवे में कोई भर्ती निकलती है तो जो भी छात्र चाहे उस परीक्षा का फॉर्म भरकर परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। लेकिन राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी की स्थापना के बाद ऐसा नहीं हो पाएगा। छात्रों को रेलवे की परीक्षा में बैठने के लिए पहले राष्ट्रीय भर्ती संस्था द्वारा आयोजित किए जाने वाले कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट में बैठना होगा। इस परीक्षा में पास करने वाले छात्रों को ही भविष्य में संबंधित विभाग की मुख्य परीक्षाओं में बैठने का मौका दिया जाएगा। इस तरह NRA द्वारा आयोजित किए जाने वाले परीक्षा को आप आरंभिक परीक्षा यानी प्रीलिम्स कह सकते हैं।

NRA साल में दो बार कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट का आयोजन करेगी। जो भी छात्र इस NRA CET में पास होंगे, उन्हें अगले 3 साल तक यह NRA द्वारा आयोजित किए जाने वाले Entrance Test में शामिल होने की आवश्यकता नहीं होगी तथा इस दौरान वह रेलवे, बैंकिंग और एसएससी में निकलने वाली नौकरियों के लिए सीधे मुख्य परीक्षा में बैठ पाएंगे।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के फायदे – Benefits of National Recruitment Agency

National Recruitment Agency का सबसे बड़ा फायदा सीधे छात्रों को होगा। वर्तमान समय में देखे तो साल भर में रेलवे, एसएससी या बैंकिंग के लिए कई सारी परीक्षाएं आयोजित की जाती रही हैं। ऐसे में छात्र को अलग-अलग परीक्षाओं के लिए अलग-अलग फॉर्म भरना होता है तथा उसे उसके उनको  काफी अधिक फीस चुकानी होती है। लेकिन नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी के आ जाने के बाद यह फायदा होगा कि इन सभी परीक्षाओं के अलग-अलग फॉर्म भरने की बजाय केवल एक बार फॉर्म भरना होगा। इससे समय और पैसे, दोनों की ही काफी बचत होगी। इससे विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों से तथा गरीब परिवेश से आने वाले छात्रों को काफी फायदा होगा।

वर्तमान समय में केंद्र सरकार के तहत आने वाली विभागों से जो नौकरियां निकलती हैं, उसके लिए आयोजित होने वाली प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए परीक्षा का आयोजन केवल 2 भाषाओं हिंदी या अंग्रेजी में ही किया जाता है। लेकिन राष्ट्रीय भर्ती संस्था द्वारा आयोजित किए जाने वाले कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (Common Eligibility Test) कुल 12 भाषाओं में आयोजित किया जाएगा। ऐसे में बड़ी संख्या में वैसे छात्रों का फायदा होगा जो कि हिंदी या अंग्रेजी की बजाए अन्य क्षेत्रीय भाषा जानते हैं।

वर्तमान समय में विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं (Competitive Exams) के लिए छात्रों को काफी दूर जाकर या दूसरे शहरों में जाकर परीक्षाएं देनी पड़ती है। लेकिन  NRA पूरे देश में 1000 से अधिक परीक्षा केंद्रों की स्थापना करेगी। ऐसे में छात्रों को ज्यादा दूर जाकर परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं होगी। इसके अलावा परीक्षार्थियों को अपनी सुविधा अनुसार परीक्षा केंद्र चुनने का अवसर दिया जाएगा।

General FAQs

Q. NRA ka full form क्या है?

Ans. National Recruitment Agency

Q. National Recruitment Agency को हिंदी में क्या कहते हैं?

Ans. राष्ट्रीय भर्ती संस्था

Q. राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के तहत वर्तमान में कौन – कौन से विभाग हैं?

Ans. एसएससी (SSC), आरआरबी (RRB) और आईबीपीएस (IBPS)

Q. NRA CET क्या है?

Ans. NRA का फुल फॉर्म National Recruitment Agency होता है। CET का फुल फॉर्म Common Eligibility Test होता है। NRA ही CET का आयोजन करेगी। इसे ही एक साथ NRA CET कहा जाता है।

Q. राष्ट्रीय भर्ती संस्था के गठन को मंजूरी कब मिली है?

Ans. 19 अगस्त 2020 को केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा

Q. राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी कितनी भाषाओं में परीक्षा लेगी?

Ans. हिंदी तथा अंग्रेजी समेत कुल 12 भाषाओं में CET का आयोजन होगा।

Q. राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी द्वारा कैसे प्रश्न पूछे जाएंगे?

Ans. बहुविकल्पीय प्रश्न


दोस्तों अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल है या ebook की आपको आवश्यकता है तो आप निचे comment कर सकते है. आपको किसी परीक्षा की जानकारी चाहिए या किसी भी प्रकार का हेल्प चाहिए तो आप comment कर सकते है. हमारा post अगर आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. आप हमसे Facebook Page से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.

इसे भी पढ़ें:

Leave A Reply

Your email address will not be published.