Mathगणित की तैयारी कैसे करे और कहा से शुरू करे ? जाने पूरी जानकारी हिंदी में

गणित की तैयारी कैसे करे और कहा से शुरू करे ? जाने पूरी जानकारी हिंदी में

- Advertisement -

गणित की तैयारी कैसे करे और कहा से शुरू करे ? जाने पूरी जानकारी हिंदी में – बहुत से अभ्यर्थी गणित को एक कठिन विषय मानते है. ऐसा देखा गया है कि बहुत से अभ्यर्थी को यह पता नहीं होता है की गणित की तैयारी कैसे करे और कहा से शुरू करे. विभिन्न टॉपिकों की जानकारी कैसे प्राप्त करे, समय-सीमा के अन्दर प्रश्नों को कैसे हॉल करे, शुद्धता एवं गति को कैसे प्राप्त करे, अधिक से अधिक अंक प्राप्त करने के लिए क्या उपाय किये जाएँ इत्यादि.

[better-ads type=”banner” banner=”2707″ campaign=”none” count=”2″ columns=”1″ orderby=”rand” order=”ASC” align=”center” show-caption=”1″][/better-ads]

अवश्य पढ़ें:

सर्वप्रथम अपने लक्ष्य निर्धारित करे :

अपने आप से एक सवाल पूछो – मैं इस टॉपिक क्या क्या सीखना चाहता हूँ? यदि आपको टॉपिक के बारे में विशेष जानकारी नहीं है तो, आप संभवतः कुछ मौलिक अवधारणा प्राप्त करना चाहेंगे. यदि आप टॉपिक से परिचित है तो टॉपिक से संबंधित प्रश्नों को हल करने के दौरान शुद्धता एवं गति प्राप्त करना चाहेंगे. टॉपिक के सापेक्ष अपने लक्ष्य के प्रति स्पष्टवादी बने.

हमेशा अवधारणा  के साथ शुरू करे :

अवधारणा के साथ शुरुआत करें, जो दिया गया है, उसे समझे. तब इसकी वास्तविक समस्याओं से संबंधित प्रश्नों को हल करे. अगली अवधारणा पर पहुँचने से पहले एक अवधारणा को पूरी तरह समझ ले. इस विधि में बहुत में बहुत-सी अवधारणाओं को समझे. इससे आपको बहुत मदद मिलेगी.

बिना टाइम-फ्रेम के प्रश्नों को हल करे:

अब तक आप विभिन्न अवधारणाओं को समझ गए होंगे. अब टॉपिक से संबंधित प्रश्नों को हल करने की बारी है. ये प्रश्न बिना टाइम-फ्रेम के हल करे. इससे प्रश्नों के बारे में आपकी समझ बढ़ेगी. इससे वास्तविक समस्याओं का आपको अनुभव होगा. इससे आपको विश्वासी स्तर(Confidence Level) बढेगा.

अग्रिम चरण की ओर बढे

ऐसा प्रत्येक प्रकार के प्रश्नों को समझने एवं हल करने से प्राप्त किया जा सकता है. कुछ प्रश्नों में अंतसंबंधित अवधारणाओं निहित होती है. इसका मतलब है की टॉपिक की अवधारणा प्रयोग दुसरे टॉपिक में भी किया जा सकता है. प्रतियोगिता परीक्षा में अतिरिक्त लाभ लेने के लिए इस प्रकार के प्रश्नों को अधिक-से-अधिक अभ्यास किया जाना चाहिए. इससे आसान एवं कठिन प्रश्नों को समझने की क्षमता बढ़ेगी. साथ ही इससे आपकी शुद्धता एवं प्रश्न हल करने की गति में वृद्धि होगी.

पुनरीक्षण ( दोहराएँ)

उपयुक्त चरणों से गुजरने के बाद सभी टॉपिकों की पुनरीक्षा करे. अवधारणाओं की भी पुनरीक्षण करे. हल किये गए प्रश्नों को भी दोहराएँ. इससे प्रश्न को हल करने में आपको कौशल और बढेगा.

[better-ads type=”banner” banner=”2707″ campaign=”none” count=”2″ columns=”1″ orderby=”rand” order=”ASC” align=”center” show-caption=”1″][/better-ads]

Math Mock Test

यह सम्पूर्ण तैयारी का एक महत्वपूर्ण पक्ष है. आपको कैसे पता चलेगा कि आप तैयारी के किस स्तर पर है? इसका सही मूल्यांकन केवल Mock Test के जरिये ही किया जा सकता है. परीक्षा के माहौल में Mock Test को हल करे और तब इसका मूल्यांकन करे. देखें कि आपने किस टॉपिक में कम अंक प्राप्त किये है. इस टॉपिक पर जाएँ और उसका फिर से अध्ययन करें और तब उससे संबंधित प्रश्नों को हल करे. इससे आपका कमजोर पक्ष मजबूत होगा और परीक्षा में आपका प्रदर्शन बेहतर होगा.

Most Important Math Book PDF Free Download

- Advertisement -

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

More Articles