SarkariExamHelp अब YouTube पर Click Here For Subscribe

CTET New Exam pattern and syllabus (पाठ्यक्रम) 2021 For paper 1st and paper 2nd in Hindi

CTET Exam pattern and syllabus 2021 For paper 1st and paper 2nd in Hindi – सीटेट एग्जाम 2021,  दोस्तों CTET New Syllabus & Exam Pattern की चर्चा यहां पर हम करने जा रहे हैं।  टीचर बनने की के लिए CBSE (सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन) एग्जामिनेशन क्वालीफाई करना जरूरी है। न्यू एजुकेशन पॉलिसी 2021,  के तहत ढेरों वैकेंसी आने वाली है और इस अवसर का लाभ वही उठा सकता है, 2021  सीटेट परीक्षा का प्राइमरी लेवल के टीचर बनने के लिए For paper 1st और  जूनियर लेवल का टीचर बनने के लिए Paper 2nd इसे टेट की परीक्षा पास कर ली तो उसे शिक्षक बनने का मौका भर्तियों में मिलता है। यहां पर हम सीटेट के प्राइमरी और जूनियर दोनों के एग्जामिनेशन New Syllabus & Exam Pattern पर चर्चा करेंगे, परीक्षा पास करने के लिए पासिंग मार्क क्या है? CTET 1st  Paper और 2nd Paper एग्जामिनेशन मार्किंग स्कीम, पैटर्न  समझाया गया है। किस किताब से तैयारी करें सभी बातें बताई गई है। इसके साथ सीटेट  में language 1 and language 2 कैसे चुने उसके बारे में भी बताया गया है।

अवश्य पढ़े:

Contents

CTET New Exam Pattern And Syllabus 2021 in Hindi

सीटेट (CTET) की पहली परीक्षा 2011 में हुई थी। अब से लेकर अब तक इसके पाठ्यक्रम और सिलेबस में थोड़ा बहुत बदलाव हुआ है। इस बार की सीटेट परीक्षा में आपको CTET Syllabus 2021 से संबंधित टॉपिक को बेहतर तरीके से पढ़ कर जाना चाहिए। इसके साथ सीटेट की प्रैक्टिस पेपर बहुत जरूरी होता है क्योंकि यहां पर सवाल इतने घुमा कर आते हैं कि सभी चारों ऑप्शन सही लगता है . टीचिंग साइकोलॉजी के तरीके से सारे सब्जेक्ट पढ़ेंगे, तो आप सही उत्तर दे पाते हैं। सारे सब्जेक्ट के टीचिंग एटीट्यूट पर ध्यान देना चाहिए। परीक्षा के Pattern और Syllabus की सही जानकारी होनी चाहिए।

CTET Exam pattern and syllabus 2021 For paper 1st and paper 2nd in Hindi
CTET Exam Pattern And Syllabus 2021 For Paper 1st And Paper 2nd In Hindi

SarkariExamHelp आज आपके लिए CBSE  द्वारा आयोजित CTET Exam pattern and syllabus 2021 in Hindi की पूरी जानकारी शेयर कर रहा है। शिक्षक बनने का आपका सपना हकीकत में बदलने वाला है क्योंकि जल्द ही आपकी  CTET (टीचर एलिजिबिलिती टेस्ट ) आयोजित करने वाला है। 

आप की तैयारी तगड़ी होनी चाहिए इसलिए कि CTET के 150 अंकों में से  जितनी अधिक अंक आएंगे आने वाली परीक्षा  की मेरिट में उन अंकों के आधार पर अगर चयन होता है, तो सरकारी नौकरी पाने का सपना आपका साकार हो जाएगा। हम आपको एग्जामिनेशन के Pattern और Syllabus की  बिल्कुल सटीक जानकारी देने जा रहे हैं।  CTET Exam पहले  से अधिक कठिन हो गया है, इसमें आपको क्वालीफाई मार्क्स लाने होते हैं।  दोस्तों परीक्षा पैटर्न और सिलेबस सब की जानकारी और परीक्षा की, आपके लिए जरूरी है पूरा आर्टिकल अंत तक पढ़े।

CTET 2021 एग्जामिनेशन पेटर्न

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा CTET 2021 में दो तरह के पेपर होते हैं। इनके बारे में नीचे दिया हुआ है।

CTET Paper -1 : अगर आपने प्राइमरी स्तर के बच्चों को पढ़ाने के लिए पेपर फर्स्ट का चुनाव किया है जिसमें आप  कक्षा 1 से कक्षा 5 तक के बच्चों के पढ़ाने की योग्यता हासिल करते हैं। आरटीई एक्ट 2009 और नेशनल एजुकेशन पॉलिसी-2019 के अनुसार प्राइमरी टीचर वही बन सकता है जो प्राइमरी लेवल का सीटेट या राज्य स्तरीय  शिक्षक पात्रता परीक्षा पास किया है। सीटेट के पहले पेपर में प्राइमरी लेबल के टीचर आप सरकारी एवं प्राइवेट संस्थान में बन सकते हैं। बस आपके पास शिक्षण प्रशिक्षण की प्राइमरी स्तर की Degree जैसे डीएलएड, बीटीसी इत्यादि के साथ सीटेट प्राथमिक स्तर यानी कि पहला पेपर पास होना चाहिए तभी आप प्राथमिक स्तर पर टीचर बन सकते हैं।

CTET Paper -2 : इस पेपर को क्वालीफाई करने पर आप कक्षा 6 से लेकर 8 तक के शिक्षक बन सकते हैं।  जूनियर लेवल के टीचर बनने के लिए पेपर 2 (CTET) पास करना जरूरी है। फिर से लेकर 8 तक की कक्षाओं में पढ़ाने के लिए टीचर की योग्यता बीएड डिग्री शिक्षण प्रशिक्षण की होती है। (BEd teaching training degree) अगर आप चाहे तो प्राइमरी एवं जूनियर दोनों स्तर की परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। बशर्ते आपको इन दोनों परीक्षा में बैठने के लिए योग्य होना चाहिए।

UPTET 2021 Notification, Exam Date, Application Form: Update News, जुलाई महीने में जारी हो सकती है नोटिस

परीक्षा के प्रश्न इस तरह के होंगे

CTET Paper 1st और Paper 2nd दोनों ही बहुविकल्पिक MULTIPLE CHOICE Questions (MCQs) तरह का प्रश्न पूछा जाता है। अलग-अलग पेपर में कुल 150 प्रश्न 150 अंक के होते हैं।

CTET पासिंग मार्क्स

कम से कम 60 प्रतिशत नंबर जनरल कैंडिडेट के लिए  पासिंग मार्क्स CTET परीक्षा में पास होने के लिए अलग-अलग पेपर में लाना होता है। प्राइमरी लेवल की परीक्षा अगर दे रहे हैं तो उसमें 150 क्वेश्चन पूछे जाते हैं जिसमें से आपसे कम से कम 90 क्वेश्चन सही होना चाहिए और 60 प्रतिशत अंक सीटेट की परीक्षा में आना चाहिए।

CTET प्राइमरी और जूनियर लेवल  दोनों ही पेपर में नकारात्मक अंकन (Negative Marking) नहीं होता है। परीक्षा में आप सभी प्रश्नों का उत्तर करेंगे, क्योंकि लक भी काम कर सकता है। इस प्रश्न का उत्तर नहीं आता है उसमें भी अनुमान लगाकर उत्तर देना चाहिए इससे हो सकता है कि वह उत्तर सही हो जाए इसलिए नेगेटिव मार्किंग नहीं होने का लाभ आप को उठाना चाहिए। आपको पूरे 150 क्वेश्चन करना चाहिए।

CTET Exam एग्जामिनेशन  Pattern 2021

CTET Exam Pattern 2021
CTET Exam Pattern 2021

(First paper marking scheme)

 SubjectsTotal MarksTotal QuestionsDuration
Child Development & Pedagogy       30         302 Hours 30 min
Mathematics       30         30 
Language – 1       30         30 
Language – 2       30         30 
Environmental Studies       30         30 
          Total      150        150

CTET 1st paper Qualifying Marks 90

Note:- CTET के first paper जारी कक्षा 1 से लेकर 5 तक की कक्षा में पढ़ाने हेतु टीचर बनने के लिए 60% यानी 90 अंक इस परीक्षा में आना जरूरी है और आरक्षित वर्ग के लिए 83 मार्क्स जरूरी है।

CTET Exam Pattern 2021 Paper 2nd

 SubjectsTotal Marks   Total   Questions  Duration
Child Development & Pedagogy      30        302 Hours 30 min
Language – 1      30        30 
Language – 2      30        30 
Science & Mathematics or Social Science      60        60 
 Total      150       150

Note:- CTET के First Paper जारी कक्षा 6 से लेकर 8 तक की कक्षा में पढ़ाने हेतु टीचर बनने के लिए 60% यानी 90 अंक इस परीक्षा में आना जरूरी है और आरक्षित वर्ग के लिए 83 मार्क्स जरूरी है।

CTET 2nd paper एग्जामिनेशन मार्किंग स्कीम पैटर्न समझ लीजिए

CBSE CTET Exam  Syllabus & Pattern in Hindi
CBSE CTET Exam Syllabus & Pattern in Hindi

उपरोक्त टेबल में बाल विकास और चाइल्ड पेडगॉगी के 30 प्रश्न पूछे जाएंगे। लैंग्वेज एक में अगर आपने जिस भाषा को भरा है जैसे हिंदी अंग्रेजी या भारत की कोई और भाषा तो आप लैंग्वेज फर्स्ट में अपने बुकलेट से वही प्रश्न परीक्षा में करेंगे।

सीटेट में language 1 and language 2 कैसे चुने?

फॉर्म भरते समय लैंग्वेज इन वन और लैंग्वेज टू का चयन कैसे करें उदाहरण से समझाया गया है-

जैसे मान लीजिए राजू में सीटेट का फॉर्म भरते समय लैंग्वेज फर्स्ट (language 1) में हिंदी भाषा का चयन किया है। क्योंकि इसकी हिंदी भाषा बहुत अच्छी है। लैंग्वेज 2 (language 2) में दूसरी भाषा के तौर पर उसने अंग्रेजी का चयन किया है। तो परीक्षा देते समय एक ही बुकलेट में दिए गए लैंग्वेज एक के रूप में अगर आपने हिंदी चुना है तो उसे बुकलेट से करना है। फिर उसके बाद लैंग्वेज टू में अगर अंग्रेजी आपने चुना है तो आपको लैंग्वेज टू अंग्रेजी वाला क्वेश्चन करना होगा। दोस्तों यह स्पष्ट कर दें कि अंग्रेजी और हिंदी के लैंग्वेज एक और लैंग्वेज दो के पेपर अलग-अलग कठिनाई स्तर के होते हैं। इसलिए राजू ने हिंदी मीडियम से पढ़ाई की और उसकी हिंदी अच्छी थी। इसलिए सीटेट में लैंग्वेज वन में उसने हिंदी और अंग्रेजी उसकी दूसरी भाषा के रूप में सहायक भाषा की तो उसने  language 2 में अंग्रेजी चुना।

आपको बता दें कि CTET में कठिनाई का स्तर भाषाओं का भी अलग अलग होता है इसलिए आप समझदारी से लैंग्वेज चुनना चाहिए। क्योंकि सीटेट की परीक्षा बहुत कठिन होती है और 11 नंबर आपके लिए मायने रखता है, अक्सर देखा गया है कि बहुत तैयारी करने के बाद CTET Examination की परीक्षा में 87, 88, 89 नंबर पर हजारों लोग अटक जाते हैं, और उनका केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (Central Teacher Eligibility Test) क्वालीफाई नहीं हो पाता है। इसलिए 90 अंक आपको लाना होगा 23 अंक सही भाषा लैंग्वेज चेंज करने से बढ़ जाता है।

UPSSSC PET Syllabus 2021 In Hindi| Know New Exam Pattern| नया पाठ्यक्रम PDF Download

सेकंड पेपर में 2nd Paper का social science और science  math कैटेगरी क्या है?

दोस्तों कक्षा 6 से 8 तक की कक्षा में पढ़ाने के लिए social science और science  math कैटेगरी में विज्ञान (science) और गणित (mathematics) के अलग-अलग पेपर ऑप्शनल (Optional Paper) होते हैं।  CTET form भरते समय पूछा जाता है कि आपने किस विषय से स्नातक किया है।

सरल शब्दों में कहने का मतलब यह है दोस्तों की अगर आपने बीएससी किया है समय तो साइंस के टीचर होंगे और स्पेशल सब्जेक्ट कक्षा 6 से 8 तक में आप साइंस और मैथ पढ़ाएंगे अगर आपने बीए किया है, जिसमें आपने इतिहास भूगोल अर्थशास्त्र पॉलिटिकल साइंस में से कोई दो सब्जेक्ट की पढ़ाई अपने लिए स्नातक में किया है। तो आप सामाजिक विज्ञान यानी Social Science के टीचर बनेंगे। और उस विषय के अनुसार आपको मैथ साइंस अथवा सोशल साइंस के किसी एक का चयन करना होता है। Science & Mathematics का अलग पेपर होगा और Social Science का अलग, दोनों ही विषय के पेपर 60-60 नम्बर के होंगे. छात्रो को इन दोनों विषयों में से किसी एक विषय के ही  पेपर देने होंगे।

जरूर पढ़ें:

CTET Exam Syllabus 2021 Paper -1

 सीबीएसई सीटीईटी पाठ्यक्रम 2021 – पेपर I (कक्षा I से V के लिए) प्राथमिक चरण

(1) बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (30 प्रश्न)

ctet syllabus paper 1 and 2 in hindi
ctet syllabus paper 1 and 2 in hindi

 (A) बाल विकास (प्राथमिक विद्यालय बालक) – 15 प्रश्न

  • विकास की अवधारणा और सीखने के साथ इसका संबंध
  • बच्चों के विकास के सिद्धांत
  • आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव
  • समाजीकरण की प्रक्रिया: सामाजिक दुनिया और बच्चे (शिक्षक, माता-पिता, साथी)
  • मल्टी-डिमेंशनल इंटेलिजेंस
  • भाषा और विचार
  • सामाजिक निर्माण के रूप में लिंग; लिंग भूमिकाएं, लिंग-भेदभाव और शैक्षिक अभ्यास
  • शिक्षार्थियों के बीच अलग-अलग अंतर, अंतर के आधार को समझना
  • भाषा, जाति, लिंग, समुदाय, धर्म आदि की विविधता।
  • पियागेट, कोहलबर्ग और वायगोत्स्की: निर्माण और महत्वपूर्ण दृष्टिकोण।
  • बाल-केंद्रित और प्रगतिशील शिक्षा की अवधारणा।
  • बौद्धिक निर्माण का महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य।
  • सीखने के लिए मूल्यांकन और सीखने का मूल्यांकन के बीच का अंतर
  • स्कूल-आधारित मूल्यांकन, सतत और व्यापक मूल्यांकन
  • परिप्रेक्ष्य और अभ्यास

शिक्षार्थियों के तत्परता के स्तर का आकलन करने के लिए उचित प्रश्नों का निर्माण; कक्षा में सीखने और महत्वपूर्ण सोच को बढ़ाने और सीखने की उपलब्धि का आकलन करने के लिए।

CTET/UPTET Most Important Child Development And Pedagogy Questions & Answers In Hindi

अपनी परीक्षा की तैयारी CTET Paper 1 free Mock Test से करें और सभी प्रश्नों के विस्तृत समाधान प्राप्त करें।

(B) समावेशी शिक्षा की अवधारणा और विशेष आवश्यकताओं वाले बच्चों को समझना – 5 प्रश्न

  • वंचितों सहित विविध पृष्ठभूमि के शिक्षार्थियों को संबोधित करना
  • सीखने की कठिनाइयों वाले बच्चों की आवश्यकताओं को संबोधित करना
  • टैलेंटेड, क्रिएटिव और विशेष रूप से एबल्ड लर्नर को संबोधित करना ।

(C) शिक्षण और शिक्षाशास्त्र – 10 प्रश्न

  • बच्चे कैसे सोचते और सीखते हैं; कैसे और क्यों बच्चे स्कूल के प्रदर्शन में सफलता पाने के लिए ‘असफल’ हो जाते हैं।
  • बच्चों में सीखने की वैकल्पिक अवधारणा, बच्चों की ’त्रुटियों’ से सीखने की प्रक्रिया के महत्वपूर्ण चरणों को समझना।
  • अनुभूति और भावनाएँ
  • प्रेरणा और सीख
  • सीखने में योगदान करने वाले कारक – व्यक्तिगत और पर्यावरण
  • शिक्षण और सीखने की बुनियादी प्रक्रियाएं; बच्चों की सीखने की रणनीति; एक सामाजिक गतिविधि के रूप में सीखना; सीखने का सामाजिक संदर्भ।
  • बालक ‘समस्या समाधानकर्ता’ और ‘वैज्ञानिक अन्वेषक’ के रूप में

अपनी परीक्षा की तैयारी CTET Paper 2 Free Mock Test से करें और सभी प्रश्नों के विस्तृत समाधान प्राप्त करें।

(2) CTET सिलेबस 2021 – भाषा I 30 प्रश्न

(A) भाषा की समझ – 15 प्रश्न

अपठित गद्यांश पढ़ना – दो गद्य एक गद्य या नाटक और एक कविता में बोध, अंतर्ज्ञान, व्याकरण और मौखिक क्षमता पर प्रश्न (गद्य साहित्यिक, वैज्ञानिक, कथ्य या विवेकपूर्ण हो सकता है)

Hindi Vyakaran PDF Book Download In Hindi For CTET/UPTET

(B) भाषा विकास का शिक्षण – 15 प्रश्न

  • सीखना और अधिग्रहण
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • सुनने और बोलने की भूमिका; भाषा का कार्य और बच्चे इसे एक उपकरण के रूप में कैसे उपयोग करते हैं
  • भाषा कौशल
  • भाषा की समझ और दक्षता का मूल्यांकन: बोलना, सुनना,
  • पढ़ना और लिखना
  • शिक्षक-शिक्षण सामग्री: पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री
  • कक्षा का बहुभाषी संसाधन
  • उपचारात्मक शिक्षण
  • मौखिक और लिखित रूप में विचारों को संप्रेषित करने के लिए एक भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका पर एक महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • विविध कक्षा में भाषा सिखाने की चुनौतियाँ; भाषा, कठिनाइया, त्रुटिया और विकार

(3) सीबीएसई सीटीइटी पाठ्यक्रम 2021 – भाषा – II (30 प्रश्न)

(A) समझ (कॉम्प्रिहेंशन )- 15 प्रश्न

बोध, व्याकरण और मौखिक क्षमता पर सवाल के साथ दो Unseen Passage (विवेकात्मक या साहित्यिक या कथा या वैज्ञानिक)

Ghatna Chakra UPTET CTET Math Study Material PDF Book Download

(B) भाषा विकास का शिक्षण – 15 प्रश्न

  • सीखना और अधिग्रहण करना
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • सुनने और बोलने की भूमिका; भाषा का कार्य और बच्चे इसे एक उपकरण के रूप में कैसे उपयोग करते हैं
  • मौखिक रूप से और लिखित रूप में विचारों को संप्रेषित करने के लिए एक भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका पर एक महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • एक विविध कक्षा में भाषा सिखाने की चुनौतियाँ; भाषा की कठिनाइयाँ, त्रुटियाँ और विकार
  • भाषा कौशल
  • भाषा की समझ और दक्षता का मूल्यांकन: बोलना, सुनना, पढ़ना और लिखना
  • शिक्षक-शिक्षण सामग्री: पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री, कक्षा का बहुभाषी संसाधन।
  • उपचारात्मक शिक्षण
  • Earning और अध्यापन
  • नैदानिक ​​और उपचारात्मक शिक्षण

(4) सीबीएसई सीटीइटी पाठ्यक्रम 2021 – पर्यावरण अध्ययन 30 प्रश्न

(A) सामग्री – 15 प्रश्न

  • परिवार और दोस्त
  • रिश्ते
  • कार्य और खेल
  • जानवर
  • पौधा
  • भोजन
  • आवास
  • पानी
  • यात्रा
  • चीजें हम बनाते हैं और करते हैं

(B) शैक्षणिक मुद्दे – 15 प्रश्न

  • ईवीएस की अवधारणा और क्षेत्र
  • ईवीएस का महत्व, एकीकृत ईवीएस
  • पर्यावरण अध्ययन और पर्यावरण शिक्षा
  • सीखने के सिद्धांत
  • विज्ञान और सामाजिक विज्ञान का संबंध और क्षेत्र
  • अवधारणाओं को प्रस्तुत करने के दृष्टिकोण
  • क्रियाएँ
  • प्रयोग/व्यावहारिक कार्य
  • विचार-विमर्श
  • सीसीई
  • शिक्षण सामग्री
  • समस्याएँ

(5)  सीबीएसई सीटीइटी पाठ्यक्रम 2021 – गणित 30 प्रश्न

(A) सामग्री – 15 प्रश्न

  • ज्यामिति
  • आकार और स्थानिक समझ
  • हमारे आसपास की सामान्य गणितीय प्रणाली
  • नंबर
  • जोड़ और घटाव
  • गुणन
  • विभाजन
  • माप
  • वजन
  • समय
  • आयतन
  • डेटा संधारण
  • पैटर्न्स
  • पैसे

(B) शैक्षणिक मुद्दे – 15 प्रश्न

  • गणित की प्रकृति / तार्किक सोच; बच्चों की सोच को समझना
  • तर्क पैटर्न और अर्थ और सीखने की रणनीति
  • पाठ्यक्रम में गणित का स्थान
  • गणित की भाषा
  • सामुदायिक गणित
  • औपचारिक और अनौपचारिक तरीकों के माध्यम से मूल्यांकन
  • शिक्षण की समस्याएं
  • त्रुटि विश्लेषण और संबंधित पहलु

CTET 2021 का Syllabus Paper 2 पाठ्यक्रम

कक्षा 6 से 8 तक के सीटेट परीक्षा के लिए जिसे paper 2 कहते हैं, उसका syllabus यानी पाठ्यक्रम नीचे दिया-

पेपर II (कक्षा छठी से आठवीं के लिए) प्रारंभिक चरण

ctet syllabus class 6 to 8 in hindi
ctet syllabus class 6 to 8 in hindi

(1) सीबीएसई सीटीईटी पाठ्यक्रम 2021 – बाल विकास और शिक्षाशास्त्र 30 प्रश्न

(A) बाल विकास (प्राथमिक विद्यालय बाल) – 15 प्रश्न

  • विकास की अवधारणा और सीखने के साथ इसका संबंध
  • बच्चों के विकास के सिद्धांत
  • आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव
  • समाजीकरण की प्रक्रिया: सामाजिक दुनिया और बच्चे (शिक्षक, माता-पिता, साथी)
  • पियागेट, कोहलबर्ग और वायगोत्स्की: निर्माण और महत्वपूर्ण दृष्टिकोण
  • बाल-केंद्रित और प्रगतिशील शिक्षा की अवधारणा
  • इंटेलिजेंस के निर्माण का महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • मल्टी-डाइमेंशनल इंटेलिजेंस
  • भाषा और विचार
  • सामाजिक निर्माण के रूप में लिंग; लिंग भूमिकाएं, लिंग-भेदभाव और शैक्षिक अभ्यास
  • शिक्षार्थियों के बीच व्यक्तिगत अंतर, भाषा, जाति, लिंग, समुदाय, धर्म, आदि की विविधता के आधार पर मतभेदों को समझना।
  • सीखने के लिए मूल्यांकन और सीखने के आकलन के बीच का अंतर
  • स्कूल-आधारित मूल्यांकन, सतत और व्यापक मूल्यांकन: परिप्रेक्ष्य और अभ्यास
  • शिक्षार्थियों के तत्परता के स्तर का आकलन करने के लिए उचित प्रश्नों का निर्माण; कक्षा में सीखने और महत्वपूर्ण सोच को बढ़ाने और सीखने की उपलब्धि का आकलन करने के लिए।

(B) विशेष आवश्यकताओं वाले बच्चों को समावेशी शिक्षा और समझ की अवधारणा 5 प्रश्न

  • वंचितों और वंचितों सहित विविध पृष्ठभूमि के शिक्षार्थियों को संबोधित करना
  • सीखने की कठिनाइयों वाले बच्चों की आवश्यकताओं को संबोधित करना
  • टैलेंटेड, क्रिएटिव को संबोधित करते हुए, विशेष रूप से एबल्ड लर्नर्स को संबोधित किया

(C) शिक्षण और शिक्षाशास्त्र 10 प्रश्न

  • बच्चे कैसे सोचते और सीखते हैं; कैसे और क्यों बच्चे स्कूल के प्रदर्शन में सफलता पाने के लिए ‘असफल’ हो जाते हैं।
  • शिक्षण और सीखने की बुनियादी प्रक्रियाएं; बच्चों की सीखने की रणनीति; एक सामाजिक गतिविधि के रूप में सीखना; सीखने का सामाजिक संदर्भ।
  • बाल समस्या समाधानकर्ता और ‘वैज्ञानिक अन्वेषक’ के रूप में
  • बच्चों में सीखने की वैकल्पिक अवधारणा, बच्चों की ’त्रुटियों’ को सीखने की प्रक्रिया के महत्वपूर्ण चरणों के रूप में समझना।
  • अनुभूति और भावनाएँ
  • प्रेरणा और सीख
  • सीखने में योगदान करने वाले कारक – व्यक्तिगत और पर्यावरण

(2) सीबीएसई सीटीईटी पाठ्यक्रम 2021 – भाषा-I 30 प्रश्न

(A)भाषा की समझ – 15 प्रश्न

अपठित गद्यांश पढ़ना – दो गद्यांश एक गद्य या नाटक और एक में कविता बोध, अंतर्ज्ञान, व्याकरण और मौखिक क्षमता पर प्रश्न (गद्य साहित्यिक, वैज्ञानिक, कथ्य या विवेकपूर्ण हो सकता है)

ctet syllabus hindi language
ctet syllabus hindi language

(B) भाषा विकास का शिक्षण – 15 प्रश्न

  • सीखना और अधिग्रहण
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • सुनने और बोलने की भूमिका; भाषा का कार्य और बच्चे इसे एक उपकरण के रूप में कैसे उपयोग करते हैं
  • मौखिक रूप से और लिखित रूप में विचारों को संप्रेषित करने के लिए एक भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका पर एक महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • एक विविध कक्षा में भाषा सिखाने की चुनौतियाँ; भाषा कठिनाइयों, त्रुटियों और विकारों
  • भाषा कौशल
  • भाषा की समझ और दक्षता का मूल्यांकन: बोलना, सुनना, पढ़ना और लिखना
  • शिक्षक-शिक्षण सामग्री: पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री, कक्षा का बहुभाषी संसाधन
  • उपचारात्मक शिक्षण

(4) सीबीएसई सीटीईटी सिलेबस 2021 – भाषा – II 30 प्रश्न

(A) समझ – 15 प्रश्न

बोध, व्याकरण और मौखिक क्षमता पर प्रश्न के साथ दो अनदेखी गद्य मार्ग (विवेकात्मक या साहित्यिक या कथा या वैज्ञानिक)

जरूर पढ़ें:

(B) भाषा विकास का शिक्षण – 15 प्रश्न

  • सीखना और अधिग्रहण
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • सुनने और बोलने की भूमिका; भाषा का कार्य और बच्चे इसे एक उपकरण के रूप में कैसे उपयोग करते हैं
  • मौखिक और लिखित रूप में विचारों को संप्रेषित करने के लिए एक भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका पर एक महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • एक विविध कक्षा में भाषा सिखाने की चुनौतियाँ; भाषा कठिनाइया, त्रुटिया और विकार
  • भाषा कौशल
  • भाषा की समझ और दक्षता का मूल्यांकन: बोलना, सुनना, पढ़ना और लिखना
  • शिक्षक-शिक्षण सामग्री: पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री, कक्षा का बहुभाषी संसाधन
  • उपचारात्मक शिक्षण

(4) सीबीएसई सीटीईटी पाठ्यक्रम 2021 – गणित और विज्ञान 60 प्रश्न

ctet syllabus science and mathematics
ctet syllabus science and mathematics

(i) गणित- 30 प्रश्न

(A) विषय सामग्री 20 प्रश्न

  • संख्या प्रणाली
  • संख्याओं को जानना
  • नंबरों के साथ खेल
  • पूर्ण संख्या
  • नकारात्मक संख्या और पूर्णांक
  • भिन्न
  • बीजगणित
  • बीजगणित का परिचय
  • अनुपात और समानुपात
  • ज्यामिति
  • बुनियादी ज्यामितीय विचार (2-D)
  • प्राथमिक आकृतियों को समझना (2-डी और 3-डी)
  • समरूपता: (प्रतिबिंब)
  • निर्माण (स्ट्रेट एज स्केल, प्रोट्रैक्टर, कम्पास का उपयोग करके)
  • क्षेत्रमिति
  • डेटा संधारण

(B) शैक्षणिक योग्यता 10 प्रश्न

  • गणित की प्रकृति / तार्किक थिंकिंग
  • पाठ्यक्रम में गणित का स्थान
  • गणित की भाषा
  • सामुदायिक गणित
  • मूल्यांकन
  • उपचारात्मक शिक्षण
  • शिक्षण की समस्या

(ii) विज्ञान 30 प्रश्न

(A) विषय सामग्री 20 प्रश्न

  • भोजन
  • भोजन के स्रोत
  • भोजन के घटक
  • खाना साफ करना
  • सामग्री
  • दैनिक उपयोग की सामग्री
  • सजीवों की दुनिया
  • मूविंग थिंग्स पीपल एंड आइडियाज
  • चीज़ें काम कैसे करती है
  • विद्युत प्रवाह और सर्किट
  • चुम्बक
  • प्राकृतिक घटना
  • प्राकृतिक संसाधन

(B) शैक्षणिक योग्यता 10 प्रश्न

  • प्रकृति और विज्ञान की संरचना
  • प्राकृतिक विज्ञान / लक्ष्य और उद्देश्य
  • विज्ञान को समझना और सराहना करना
  • दृष्टिकोण / एकीकृत दृष्टिकोण
  • अवलोकन / प्रयोग / खोज (विज्ञान की विधि)
  • नवोन्मेष
  • पाठ सामग्री
  • मूल्यांकन – संज्ञानात्मक / साइकोमोटर / भावात्मक प्रश्न
  • उपचारात्मक शिक्षण

(5) सीटीईटी सिलेबस इन हिन्दी – सामाजिक अध्ययन / सामाजिक विज्ञान 60 प्रश्न

ctet syllabus social science in hindi
ctet syllabus social science in hindi

(a) सामग्री 40 प्रश्न

  • इतिहास
  • कब, कहां और कैसे
  • शुरुआती समाज
  • पहले किसान और चरवाह
  • पहले शहर
  • प्रारंभिक अवस्थाएँ
  • नये विचार
  • पहला साम्राज्य
  • दूर की जमीन के साथ संपर्क
  • राजनीतिक विकास
  • संस्कृति और विज्ञान
  • नये राजा और साम्राज्य
  • दिल्ली के सुल्तान
  • आर्किटेक्चर
  • एक साम्राज्य का निर्माण
  • सामाजिक बदलाव
  • क्षेत्रीय संस्कृति
  • कंपनी पावर की स्थापना
  • ग्रामीण जीवन और समाज
  • उपनिवेशवाद और जनजातीय समाज
  • 1857-58 का विद्रोह
  • महिला और सुधार
  • जाति व्यवस्था को चुनौती
  • राष्ट्रवादी आंदोलन
  • आजादी के बाद का भारत
  • भूगोल
  • भूगोल एक सामाजिक अध्ययन और एक विज्ञान के रूप में
  • ग्रह: पृथ्वी सौरमंडल में
  • ग्लोब
  • पर्यावरण अपनी समग्रता में: प्राकृतिक और मानव पर्यावरण
  • वायु
  • पानी
  • मानव पर्यावरण: निपटान, परिवहन और संचार
  • संसाधन: प्रकार-प्राकृतिक और मानव निर्मित
  • कृषि
  • सामाजिक और राजनीतिक जीवन
  • विविधता
  • सरकार
  • स्थानीय सरकार
  • जीविका चलाना
  • जनतंत्र
  • राज्य सरकार
  • मीडिया को समझना
  • अनपैकिंग जेंडर
  • संविधान
  • संसदीय सरकार
  • न्यायपालिका
  • सामाजिक न्याय और सीमांत

(B) शैक्षणिक मुद्दे 20 प्रश्न

  • सामाजिक विज्ञान / सामाजिक अध्ययन की अवधारणा और प्रकृति
  • कक्षा कक्ष प्रक्रियाएँ, गतिविधियाँ, और प्रवचन
  • आलोचनात्मक सोच का विकास करना
  • पूछताछ / अनुभवजन्य साक्ष्य
  • सामाजिक विज्ञान / सामाजिक अध्ययन पढ़ाने की समस्याएं
  • स्रोत – प्राथमिक और माध्यमिक
  • प्रोजेक्ट्स का काम
  • मूल्यांकन
CTET Syllabus In Hindi
CTET 2021 Syllabus In Hindi

DOWNLOAD CTET 2021 SYLLABUS IN HINDI PDF

एक अध्यापक किसी भी समाज  को शिक्षित बनाने में अपना बहुत बड़ी भूमिका निभाता है. हमारा कल कैसा होगा यह एक अध्यापक भलीभांति समझता है. आपके इसी सपने को साकार करने में और समाज में शिक्षक के योगदान को और अधिक महत्वपूर्ण बनाने हेतु आज का हमारा पोस्ट आपके लिए उपयोगी साबित होगा.

General FAQs

सीटेट पेपर 2 के तैयारी के लिए प्रमुख किताबें कौन सी है?

CTET पेपर II के लिए बेस्ट बुक्स 2021
सीटीईटी और टीईटी सॉल्व्ड पेपर्स अरिहंत प्रकाशन। पेपर 2 के लिए CTET सक्सेस मास्टर अरिहंत प्रकाशन अथवा उपकार प्रकाशन की कोई एक किताब आपके लिए बड़ा लाभकारी होगा। CTET प्रैक्टिस वर्कबुक बुक दिशा प्रकाशन है।

CTET examination कक्षा 6 से 8 तक की तैयारी कैसे करें?

CTET examination preparation tips in Hindi: सीटीईटी पेपर की तैयारी के लिए क्या टिप्स दे रहे है।
दोस्तों जैसा कि जानते सीटेट परीक्षा बहुविकल्पीय मल्टीपल चॉइस (MCQs) की होती है। पेपर में ऑप्शन लगभग एक जैसी मिलते जुलते लगते हैं और इस कारण से आप जल्दबाजी में उत्तर लगा देते हैं। इसलिए तैयारी करते समय इस बात का ध्यान रखें कि एक बार ही तो आपको चारों उत्तर सही लगेगा लेकिन उनमें अंतर आप हमसे दूर सकते हैं यदि आप प्रश्न को सही से समझते हैं।
मैथमेटिक्स यानी गणित का कांसेप्ट और फार्मूला याद कर ले ताकि गणित के पेपर में पूछे जाने वाले सवाल को आफ मैथमेटिक्स के कांसेप्ट और फार्मूला याद करके आसानी से कर सकते हैं।

सीटेट की तैयारी करने के लिए किताबों का नाम बताइए?

NCERT कक्षा 6 से लेकर 12 तक की किताबों का अध्ययन करें और यहां दिए गए घटनाक्रम फैक्ट आदि को अच्छे से याद कर ले क्योंकि इन्हीं के आधार पर प्रश्नों पूछे जाते हैं।

क्या सीटेट परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होती है?

 सीटेट की परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है।

क्या सीटेट की परीक्षा हर साल होती है?

हां Central Government Teacher Eligibility Test (CTET) क्वालीफाई करने के लिए परीक्षा फॉर्म हर साल ऑनलाइन निकलता है सीबीएसई बोर्ड यह परीक्षा कंडक्ट करवाती है। इस बार सन 2021 में मार्च महीने में कोरोना संक्रमण के कारण सीटेट की परीक्षा टल गई थी इसलिए इस साल मार्च 2021 में आयोजित कराया गया था।

क्या सीटेट पास करके टीचर बन सकते हैं?

हां दोस्तों केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा, CTET कहते हैं वह कोई भी पास करके टीचर बनने की योग्यता रखता है लेकिन टीचर बनने के लिए सीटीईटी क्वालीफाई होने के साथ-साथ उसे और योग्यता भी पूरी करनी होती है जैसे बीएड डीएलएड आदि किया हो।

क्या सीटीईटी परीक्षा की तरह उत्तर प्रदेश या मध्य प्रदेश के राज्य के भी शिक्षकों की भर्ती के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन कराते हैं?

बिल्कुल, सीटेट केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा की तरह उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश से उत्तराखंड महाराष्ट्र, बंगाल इत्यादि राज्य भी अपने यहां शिक्षकों की भर्ती के लिए राज्य स्तरीय परीक्षा है अपने-अपने राज्यों में करवाती है, जैसे  UP TET, MP TET इत्यादि।


आप हमसे Facebook Page , Twitter or Instagram से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.

1 thought on “CTET New Exam pattern and syllabus (पाठ्यक्रम) 2021 For paper 1st and paper 2nd in Hindi”

Leave a Comment